उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र, योग्यता Gaura Devi Kanya Dhan Yojana - Gram Chaupal

Breaking

DIGITAL BHARAT KI CHAUPAL

Saturday, 7 November 2020

उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र, योग्यता Gaura Devi Kanya Dhan Yojana

 उत्तराखंड की गौरी देवी कन्या धन योजना 2019 महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक है। गोरा कन्या धन योजना के अंदर राज्य में गरीबी रेखा से नीचे (Below Poverty Line – BPL) जीवन-यापन कर रहे परिवारों की बेटियों के बाल-विवाह को रोकने और उन्हे साक्षर बनाने या पढ़ाई के प्रति जागरूक करने के लिए राज्य सरकार 50,000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। नंदा देवी कन्या धन योजना के लिए आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 30 नवंबर 2019 है। पंजीकरण करने की पूरी प्रक्रिया आप नीचे देख सकते हैं।

उत्तराखंड में बाल विवाह (Child Marriage) की समस्या से लड़ने और उसे रोकने के लिए उत्तराखंड सरकार ने 1 जुलाई 2017 को गौरा देवी कन्या धन योजना (Gaura Devi Kanya Dhan Yojana ) की शुरुआत करी थी। यह सरकारी योजना राज्य में लड़कियों को सुरक्षा प्रदान करने के साथ-साथ उन्हे शिक्षा पूरी करने के लिए बढ़ावा देगी।

गोरा कन्या धन योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में कन्याओं को आत्मनिर्भर बनाना,कन्या भ्रूण हत्या को खत्म करना और प्रदेश में लड़कियों और लड़कों के बीच लिंगानुपात में सुधार करना है। इस योजना के तहत एक BPL परिवार की अधिकतम दो लड़कियों को ही FD के रूप में 50,000 रूपये दिये जाएंगे। जिसका इस्तेमाल 12वीं कक्षा पास करने के बाद उनकी शादी के समय किया जा सकता है।

उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना – जरूरी दस्तावेज़

आवेदन करने से पहले यह जांच ले की आवेदक के पास निम्न्लिखित दस्तावेज़ हैं या नहीं:

  • BPL कार्ड की अटेस्ट कॉपी
  • आय प्रमाण (Income Certificate) पत्र की कॉपी
  • जाति प्रमाण पत्र (Caste Certificate) की कॉपी
  • हाई स्कूल की मार्कशीट
  • अविवाहित होने का प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक के पहले पेज की कॉपी
  • पहचान पत्र-वोटर कार्ड/आधार या राशन कार्ड की कॉपी
  • फोटो/ईमेल-आईडी/मोबाइल नंबर
  • 12वीं कक्षा का रोल नंबर

उत्तराखंड गोरा देवी कन्या धन योजना – योग्यता मापदंड

सभी आवेदक योजना के लिए रजिस्ट्रेशन करने से पहले यह देख ले की वह नीचे बताये गए पात्रता मानदंडों को पूरा करता है या नहीं:

  • छात्रा उत्तराखंड की मूल निवासी होनी चाहिए।
  • छात्रा का नाम BPL list में होना चाहिए।
  • छात्रा का उत्तराखंड विद्यालय बोर्ड से 12वीं पास होना जरूरी है।
  • छात्रा के परिवार की सालाना आय ग्रामीण क्षेत्र में 15,976 रुपये और शहरी क्षेत्र में 21,206 रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • छात्रा अविवाहित होनी चाहिए और जिस साल आवेदन किया जा रहा है उस साल 01 जुलाई तक उसकी उम्र 25 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • छात्रा केंद्र या राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त स्कूल में पढ़ाई कर रही हो।

उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना 2019 – ऑनलाइन आवेदन

इस योजना का लाभ लेने के लिए आप ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं, नीचे दिये स्टेप्स को फॉलो करके आप ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं:

सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट escholarship.uk.gov.in पर जाएं ।

इसके बाद आपके सामने गौरी देवी कन्या धन स्कीम का लिंक दिखाई देगा जैसा की नीचे दिखाया गया है।

Uttrakhan gauri devi kanya dhan yojana form

फॉर्म में सभी डीटेल सही से भरें और सभी जानकारी ठीक से भरकर “Submit” बटन पर क्लिक कर दे, जिसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा।

नंदा गौरा योजना का लाभ उठाने के लिए आप ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं क्यूंकि पोर्टल किसी तकनीकी खराबी की वजह से नहीं खुल रहा है। नंदा गौरा योजना का आवेदन पत्र आप अपने स्कूल के प्रधानाचार्य से संपर्क करके भी भर सकते हैं। गौरा देवी कन्या धन योजना का प्रारूप फॉर्म आप नीचे देख सकते हैं।


आवेदक गौरादेवी कन्याधन योजना का आवेदन भर कर संबंधित विकास खंड कार्यालय या सहायक समाज कल्याण अधिकारी के पास जमा कर सकते हैं। पंजीकरण फॉर्म जमा करने की अंतिम तिथि 30 सितंबर तक होती है, जिसको इस साल बढ़ाकर 30 नवंबर कर दिया है।

उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना – सहायता राशि

गोरा देवी कन्या धन योजना लाभ
बेटी के जन्म पर5,000 रूपये
1 साल की होने पर5,000 रूपये
8वीं कक्षा तक5,000 रूपये
10वीं कक्षा में5,000 रूपये
12वीं कक्षा में5,000 रूपये
ग्रेजुएशन एवं डिप्लोमा के लिए10,000 रूपये
शादी के लिए15,000 रूपये
कुल राशि50,000 रूपये

नन्दा गौरा देवी कन्या धन योजना – जिलाअनुसार आवंटित राशि

इस योजना को सफलतापूर्वक चलाने के लिए राज्य सरकार द्वारा दी गई राशि निम्न्लिखित है:

  • देहरादून – 2 करोड़ 77 लाख 50 हजार रुपए
  • पौड़ी – 10 करोड़
  • टिहरी – 33 करोड़ 60 लाख रुपए
  • उत्तरकाशी – 14 करोड़ 25 लाख रुपए
  • रुद्रप्रयाग – 50 लाख रुपए
  • चमौली – 3 करोड़ 20 लाख 75 हजार रुपए
  • हरिद्वार – 58 करोड़ 95 लाख रुपए
  • यूएसनगर – 4 करोड़, 97 लाख 55 हजार रुपए
  • नैनीताल – 3 करोड़, 40 लाख, 50 हजार रुपए
  • अलमौड़ा – 4 करोड़, 7 लाख 90 हजार रुपए
  • बागेश्वर – 1 करोड़ 30 लाख 25 हजार रुपए
  • पिथौरागढ़ – 1 करोड़ 25 लाख रुपए
  • चपावत – 55 लाख 50 हजार रुपए

इस योजना से सम्बंधित किसी भी अन्य जानकारी के लिए आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट escholarship.uk.gov.in पर जा सकते है।


No comments:

Post a comment